Sunday, 4 December 2011

""♥♥♥♥♥♥देव आनंद को नमन ♥♥♥♥♥♥♥♥
कभी बने वो "राजू गाइड", कभी बने "नादान"!
कभी बताया हमे उन्होंने , "जोनी मेरा नाम"!

उनके अभिनय में दिखती थी सच्चाई की छाया!
कभी रुलाया भावुकता से, हमको कभी हंसाया!
कभी प्रेम में सखी को ढूंढा, कभी विरह ही पीड़ा,
मन में दीप जले आशा का, ऐसा गीत सुनाया!

अभिनय के ऐसे प्रहरी का, आज हुआ अवसान!
युगों युगों तक याद रहेगा, महानायक का नाम!"


"महानायक देव आनंद जी आज हम सबके के बीच नहीं रहे!
आज वो देह रूप से हमारे साथ नहीं है पर
उनकी स्मृति सदा साथ रहेगी! नमन उन्हें!"

चेतन रामकिशन "देव"
दिनांक--०४.१२.२०११

1 comment:

Kailash C Sharma said...

देव साहब को विनम्र श्रद्धांजलि...