Sunday, 3 June 2012

♥.कलम की हिफाज़त.♥


♥♥♥♥♥♥♥♥.कलम की हिफाज़त.♥♥♥♥♥♥♥♥
कलम के नाम पर बदनामी का न दाग लग जाये!
कलम से जाति, मज़हब, धर्म की न आग लग जाये!

कलम से हमको समरसता का, एक सन्देश देना है!
कलम से हमको सच्चाई, भरा उपदेश देना है!


कलम की नोंक पर न, स्वार्थ विष का झाग लग जाये!
कलम के नाम पर बदनामी का न दाग लग जाये!"

............"शुभ-दिन"..चेतन रामकिशन "देव"...............

2 comments:

शिवनाथ कुमार said...

सही कहा आपने की कलम जब भी उठनी चाहिए कुछ अच्छे के लिए ही उठनी चाहिए ..
सुंदर लेखन !!

chetankavi said...

THANK YOU SO MUCH MR. SHIVNATH JI!